21 साल तक तृणमूल कांग्रेस का हिस्सा बने रहने पर शर्म महसूस कर रहे हैं शुभेंदु अधिकारी


कुछ दिन पहले ही तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए शुभेंदु अधिकारी ने शनिवार को कहा कि पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी में कोई अनुशासन नहीं है। अधिकारी ने तृणमूल कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं के स्वागत समारोह में कहा कि वहीं भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है और देश सेवा के लिए समर्पित है।

उन्होंने तुलना करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस की बैठकों में पारित होने वाले प्रस्तावों को रिकॉर्ड तक नहीं किया जाता। उन्होंने कहा, ‘‘हम मिलकर काम करेंगे ताकि राज्य में 2021 के विधानसभा चुनाव में भाजपा सत्ता में आए और पश्चिम बंगाल ‘सोनार बांग्ला’ बन जाए। पश्चिम बंगाल को सक्षम नेता नरेंद्र मोदी के हाथों में सौंपना होगा।”

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का जिक्र करते हुए अधिकारी ने कहा कि अनेक राज्यों ने किसानों को लाभ दिलाने के लिए इस योजना का फायदा उठाया है, लेकिन पश्चिम बंगाल सरकार ने इससे इनकार कर दिया और किसानों को इसके लाभों से वंचित कर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘अब जरूरी है कि देश में शासन कर रही पार्टी ही यहां भी सत्ता में आए।”

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कार्यक्रम में कहा, ‘‘दीदी (ममता बनर्जी) कह रही हैं कि भाजपा बाहरी पार्टी है। बंगाल पाकिस्तान में जा रहा था। जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने इसके खिलाफ आवाज उठाई थी और उनकी वजह से आज का पश्चिम बंगाल है।” उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी बाहरी मानती हैं। विजयवर्गीय ने कहा कि दुनिया मोदी के नेतृत्व को मानती है, लेकिन बनर्जी नहीं मानतीं।

उन्होंने कहा, ‘‘पाकिस्तान के बलूचिस्तान की जनता मोदीजी का सम्मान करती है और वहां के लोग उन्हें राखी भेजते हैं। वह अमित शाह को भी बाहरी मानती हैं। वह पश्चिम बंगाल में आने वाले लोगों के खिलाफ बाहरी होने का माहौल बनाने की कोशिश कर रही हैं।”

विजयवर्गीय ने कहा कि हाल ही में भाजपा में शामिल हुए तृणमूल कांग्रेस सांसद सुनील मंडल की कार पर हमला किया गया, जिसके बारे में उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री को रिपोर्ट भेज दी है। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी जहां सफेद साड़ी और चप्पल पहनती हैं, वहीं उनके भतीजे (अभिषेक बनर्जी) 25 लाख रुपये का चश्मा पहनते हैं और सात करोड़ रुपये के आवास में रहते हैं, जिसमें लिफ्ट भी है।

भाजपा महासचिव ने कहा, ‘‘ये तृणमूल कांग्रेस के नेता कह रहे हैं।” उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मवेशियों की तस्करी के पीछे कौन है? इन सबके पीछे उनके भतीजे हैं।” विजयवर्गीय ने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस राज्य में तानाशाही चला रही है। भाजपा में लोकतंत्र है।”

तृणमूल कांग्रेस को छोड़कर हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री सुवेंदु अधिकारी ने शनिवार को कहा कि वह 21 साल तक तृणमूल कांग्रेस का हिस्सा बने रहने पर शर्म महसूस कर रहे हैं।

हेस्टिंग्स में भाजपा पार्टी कार्यालय में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, अधिकारी ने कहा, “मुझे वास्तव में शर्म आती है कि मैं 21 साल तक उस राजनीतिक पार्टी (तृणमूल कांग्रेस) का हिस्सा था। यह बिल्कुल भी अनुशासन का पालन नहीं करती है। यह एक कंपनी की तरह हो गई है। हम उस कंपनी से बाहर आ गए और एक उचित राजनीतिक पार्टी में सदस्यता प्राप्त कर ली।”

उन्होंने कहा कि दो दशकों से बंगाल ‘फॉर द पार्टी, बाय द पार्टी और ऑफ द पार्टी’ की संस्कृति का पालन कर रहा है। सुवेंदु ने कहा कि मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेतृत्व वाली वाम मोर्चा सरकार ने 34 साल तक ऐसा किया और उसके बाद ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस ने इन्हीं कदम चिन्हों पर चलते हुए ऐसा ही किया।

प्रदेश के पूर्व मंत्री ने कहा, “केवल भाजपा बंगाल में ‘फॉर द पीपल, बाय द पीपल, ऑफ द पीपल’ संस्कृति स्थापित कर सकती है। अगर हम वास्तव में आर्थिक सुधार चाहते हैं और बंगाल में रोजगार के अवसर पैदा करना चाहते हैं, तो हमें भाजपा की ओर बढ़ना चाहिए, जो केंद्र में शासन कर रही है।”
उन्होंने कहा कि भगवा पार्टी को बंगाल में भी सत्ता में आना चाहिए।

सुवेंदु ने राज्य में 135 भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत का भी जिक्र किया। अधिकारी ने कहा कि पहले से ही भाजपा के राज्य इकाई के प्रमुख दिलीप घोष के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने बंगाल में अपना आधार मजबूत कर लिया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *